अजीबोगरीब: मुंबई का यह व्यक्ति अपने मां बाप पर चलाना चाहता है मुकदमा, हैरान कर देगी वजह

54

आपने इस दुनिया में कई अजीबोगरीब हरकतों के बारे में सुना होगा और देखा होगा। लेकिन हमारा दावा है कि आज हम जिस अजीबोगरीब घटना के बारे में बताने जा रहे हैं उसे आपने सुना ही नहीं होगा बल्कि आप ऐसी घटनाओं की कल्पना भी नहीं कर सकते।

मुंबई का एक व्यक्ति अपने मां बाप पर मुकदमा चलाना चाहता है। इसके पीछे की वजह जानकर आपको हैरानी होगी।दरअसल, यह व्यक्ति अपने मां बाप पर इसलिए मुकदमा करना चाहता है क्योंकि उसके मां-बाप ने उसकी सहमति के बिना उसे जन्म दिया था।

27 वर्षीय Raphael Samuel एक फेसबुक पोस्ट में खुद को anti-natalist बताता है। इसका मतलब यह हुआ कि यह व्यक्ति जन्म के खिलाफ है। उसने फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट के जरिए एक्सप्लेन किया है कि वह अपने मां बाप पर मुकदमा क्यों चलाना चाहता है।

आपको बता दें कि Anti-natalists का मानना है कि लोगों के द्वारा बच्चे को जन्म देना नैतिक रूप से गलत होता है। वास्तव में Raphael Samuel द्वारा फेसबुक पर पोस्ट किए गए तस्वीर में कहा गया है, ” जन्म देना सभी बुराइयों की जड़ है। बच्चे को जन्म देना बंद करें।”

पोस्ट किए गए एक वीडियो में Raphael Samuel कहता है कि मैं भारत और दुनिया के हर व्यक्ति को यह एहसास दिलाना चाहता हूं कि उनका जन्म उनकी सहमति के बगैर हुआ है। उसने कहा कि मैं चाहता हूं कि वे यह समझें कि वे अपने माता पिता को कुछ भी नहीं मानते हैं।

एक इंटरव्यू में Raphael Samuel ने कहा कि जन्म देना इस धरती पर सबसे नशीली करतूत है। किसी से भी पूछो कि वह जन्म क्यों देते हैं। इसकी शुरुआत होगी कि मैं चाहता था/चाहती थी। एक बच्चे को एक ऐसी दुनिया में लाना जहां मुश्किलें ही मुश्किलें हैं, गलत है। जन्म के विरोधियों का एजेंडा है कि वे लोगों को कन्वींस कर सकें कि बच्चे को जन्म देना बंद किया जाए। क्यों? क्योंकि जीवन में बहुत दुख शामिल है।

सैमुअल के पोस्ट और वीडियो को लोगों से सोशल मीडिया पर मिली जुली प्रतिक्रिया मिली है।

फेसबुक पर एक प्रतिक्रिया में कहा गया है कि आपसे सहमति कैसे ली जा सकती है? इस मुकदमे का आधार पूरी तरह हास्यास्पद है। इसका कोई मतलब नहीं है। यह अज्ञानी लगता है। वहीं यूट्यूब पर एक प्रतिक्रिया मिली है जिसमें कहा गया है कि मैं आपको सच में सपोर्ट करता हूं। एक बच्चे को जन्म देने से पहले लोगों को सोचना चाहिए, लेकिन सच्चाई यह है कि वह सोचते नहीं।

~Shravan Pandey

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here