कहीं अपनी जान से हाथ न धो बैठें स्वाति मालिवाल, 9वें दिन भी अनशन जारी

“अगर प्रधानमंत्री जिद्दी हैं तो मैं उनसे भी ज्यादा जिद्दी हूँ।” अपने इसी जिद्द के दम पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालिवाल बच्चियों के साथ होने वाले बलात्कार के मामले में अपराधियों के खिलाफ मौजूदा कानून को और ज्यादा सख़्त करवाने के लिए पिछले 9 दिनों से अनशन पर बैठी हुई हैं। इस दौरान वह सिर्फ ज्यूस और पानी पी रही हैं। अनशन के 8 दिन बीत जाने के बावजूद उनका हौसला तो कम नही हुआ लेकिन वजन जरूर 5 किलो कम हो गया है।
कठुआ में आठ साल की नाबालिग आसिफा के साथ हुई दरिंदगी के बाद बच्चियों के साथ होने वाले अपराध पर लगाम लगाने के लिए अपराधियों के खिलाफ मौजूदा कानून को सख़्त बनाने के लिए अनशन पर बैठी स्वाति मालिवाल ने कहा कि जब तक बलात्कारियों को 6 महीने में फांसी की सजा का काननू नहीं बनेगा में इस जगह से नहीं उठूंगी। फिर चाहे इसके लिए मुझे कोई भी कुर्बानी क्यों न देनी पड़े। मैं जानती हूं कि पीएम नरेन्द्र मोदी जिद्दी हैं, लेकिन मैं भी उनकी ही बेटी हूं और उतनी ही जिद्दी भी हूं। बिना मांग पूरी हुए किसी भी कीमत पर नहीं उठूंगी।
9 दिन से जारी स्वाति मालिवाल के अनशन के कारण अब उनकी तबियत भी बिगड़ती जा रही है। इतने दिनों तक लगातार जारी अनशन के चलते उनका शरीर इतना कमजोर हो गया है कि सातवें दिन राजघाट जाने के लिए उन्हें व्हीलचेयर का सहारा लेना पड़ा। स्वाति मालिवाल के अनशन के समर्थन में दिल्ली महिला आयोग का पूरा स्टाफ भी उतर आया है। यही कारण है कि महिला आयोग का कामकाज आजकल अनशन स्थल से ही हो रहा है।
No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com