“किसान जात चोर है। साले बदमाश हैं किसान। किसानों को जूते मारना चाहिए।”~भाजपा नेता

बेतुकी और बेवजह की बयानबाजी इन दिनों भाजपा के लिए सबसे बड़ी मुसीबत बनी हुई है। आए दिन उनका कोई न कोई नेता ऐसे ऊटपटांग बयान दे देता है जिससे बीजेपी खुद अपने पैरो पर कुल्हाड़ी मार लेती है। खुद के लिए खुद ही मुसीबत पैदा करने वाला एक नया बयान  भाजपा किसान नेता और किसान मोर्चा जिला ग्रामीण के मंत्री हाकम सिंह आंजना की तरफ से आया हैं। सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में वह किसानो के बारे में बेहद आपत्तिजनक बाते करते दिखाई दे रहे हैं।

वायरल वीडियो में एक सवाल के जवाब में भाजपा नेता हाकम सिंह आंजना भड़कते हुए कहते है,”किसान जात चोर है, साले बदमाश हैं किसान। किसानों को जूते मारना चाहिए। जूते खाने लायक हैं ये किसान लोग। ये किसान कभी नहीं सुधरेंगे। किसान को बहुत हराम का चाहिए, हरामी है किसान। किसानों को जूते मारो।” आपको बता दे कि मध्य प्रदेश में किसान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की शिवराज सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं और प्रदेश में 1 जून से 10 जून के बीच सरकार की नीतियों के खिलाफ आंदोलन की घोषणा की है।

अब एक तरफ शिवराज सरकार किसानों के आगामी आंदोलन को किसी तरह टलवाने के लिए भरसक प्रयास कर रही है। उसी समय  किसान मोर्चा जिला ग्रामीण के मंत्री हाकम सिंह आंजना जैसे नेता किसानों को लेकर अभद्र टिप्पणी कर सरकार की मुश्किलों को और ज्यादा बढाने में लगे हुए हैं। दैनिक भास्कर की एक खबर के मुताबिक, किसानों को लेकर हाकम सिंंह द्वारा बोले गए अपमानजनक बोल के बाद भाजपा ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया है। शनिवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह ने अधिकारिक रूप से हाकम सिंह को पार्टी से निष्काषित करने का पत्र जारी कर दिया।

दरअसल, हाकम सिंह आंजना से एक सवाल पूछा गया था। सवाल यह था,”शिवराज सरकार किसानों के लिए इतनी कुछ सुविधा कर रही है, इतना कुछ दे रही है, इसके बाद भी किसान मध्य प्रदेश की सरकार से नाराज क्यों है?” इसके जवाब में भाजपा नेता हाकम सिंह आंजना ने कहा,”आज के हालात में किसान सबसे बेईमान जात हो गई है। किसान इतने बेईमान हैं जितना कोई नहीं। शिवराज सिंह चौहान किसानों के लिए वो कर रहा है जो आज तक न किसी मुख्यमंत्री ने किया, न सरकार ने किया, न कोई करेंगे। वे लहसुन में 800 रुपये प्रति क्विंटल दे रहे हैं, लेकिन किसान चोरी कर रहे हैं। जिसने लहसुन नहीं बोई थी, वो भी पंजीयन करवा के बैठा है।”

No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com