गन्ना किसानों के लिए बड़ी राहत: 20 हजार करोड़ का होगा भुगतान

देशभर में जारी किसान आंदोलन का आज चौथा दिन है। महाराष्ट्र के कई ज़िलों में किसान हड़ताल पर है। ऐसे में सब्ज़ियों दूध और फल के दाम बढ़ते जा रहे है। इस बिच किसानो के लिए एक रहत की खबर आयी है। केंद्र सरकार ने गन्ना किसानों को बड़ी राहत देते हुए उनका बकाया 20 हजार करोड़ के भुगतान करने का ऐलान किया है. साथ ही सरकार ने चीनी से निर्यात कर भी हटा दिया है।

सरकार ने गन्ना किसानो के लिए राहत की कई घोषणएं की है। सरकार ने कहा है के गन्ने का 30 लाख टन का बफर स्टॉक बनाया जाएगा. इसके अलावा सरकार किसानों के बकाए 20 हजार करोड़ का भुगतान भी करेगी. सरकार को उम्मीद है कि बफर स्टॉक के जरिए चीनी की सप्लाई को कम किया जा सकेगा।

मौजूदा हालात में एक किलो चीनी की कीमत 25 रुपये हैं जबकि इसके निर्माण में 30 रुपये खर्च होते हैं. चीनी मिल को अपने पास ही चीनी का बफर स्टॉक रखना होगा। चीनी व्यापारियों को राहत देने के लिए सरकार चीनी निर्यातकों को उत्पादन पर प्रोत्साहन राशि भी देने जा रही है. इस साल चीनी का बंपर उत्पादन होने और कीमतों में आई गिरावट को देखते हुए सरकार उसका निर्यात बढ़ाना चाहती है।

ऑल इंडिया किसान संघर्ष समिति ने सरकार की ओर से लिए गए फैसले पर कहा कि इन सब के पीछे कैराना चुनाव में हुई हार का असर है. सरकार कॉरपोरेट के हित में का कर रही है और किसान विरोधी है। ऐसे में किसानो की नाराज़गी आने वाले चुनाव में बीजेपी के लिए खतरा ला सकती है। किसानो के और भी मांग है जिन्हे सरकार को पूरा करना चाहिए। 

वहीं किसानो की कई मांगे है और वह पूरा ना होने के कारन उनकी 10 दिवसीय हड़ताल जारी है। हालांकि पिछले तीन दिनों से अभी तक किसानों ने शांतिपूर्वक आंदोलन किया. राष्ट्रीय किसान महासंघ ने 130 संगठनों के साथ मिलकर विरोध-प्रदर्शन और हड़ताल की हुई है.

No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com