चीन में जारी हुआ मस्जिदों में राष्ट्रीय ध्वज लगाने का फरमान!

चीन में इन दिनों मुसलमानों को तरह-तरह से प्रताड़ित करने की खबरों की बाढ़-सी आ गई है। रमज़ान में मुसलमानों को जबरन दारू पिलाने और धार्मिक पुस्तकें छीन लेने की खबर ठीक से आउटडेटेड भी नहीं हुई कि मुसलमानों को धार्मिक रूप से प्रताड़ित करने का नया मामला सामने आ गया। ख़बर के अनुसार, चीन की सरकारी इस्लामिक संगठन “चाइना इस्लामिक एसोसिएशन” ने देशभर के मस्जिदों से यह अनुरोध किया है कि वह नागरिकों में “राष्ट्र भावना” को बढ़ाने के लिए चीन का राष्ट्रीय झंडा लगाएँ।

समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया के मुताबिक, चाइना इस्लामिक एसोसिएशन के इस पहल की चीन के विशेषज्ञों ने भूरी-भूरी प्रशंसा की है। खबर के अनुसार, चाइना इस्लामिक एसोसिएशन ने अपने वेबसाइट पर एक पत्र का प्रकाशन किया है। इस पत्र के जरिए उन्होंने देशभर के मस्जिदों से “राष्ट्र के सिद्धांतों” को अच्छी तरह समझने और बच्चों में “देशभक्ति के भाव” को भरने के उद्देश्य पूर्ति हेतु मस्जिदों में चीन का राष्ट्रीय झंडा लगाने का अनुरोध किया है। इतना ही नहीं मस्जिदों में चीन का संविधान और समाजवादी के मूल विचारों को पढ़ाने की अपील की गई है।

चीनी सरकार द्वारा मस्जिदों में राष्ट्रीय ध्वज लगाए जाने के कदम को लेकर वहां कई लोगों ने सवाल भी खड़े किए हैं। सबसे प्रमुख सवाल यह रहा कि क्या धार्मिक स्थान पर राष्ट्रीय ध्वज फहराना राजनीति और धर्म को अलग करने के चीन के मूल सिद्धांत के खिलाफ नहीं है? इसके जवाब में कहा गया है कि राष्ट्रीय ध्वज राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करता है राजनीति का नहीं। आपको बता दें कि चीन में मुस्लिम आबादी करीब 2 करोड़ है और इन 2 करोड़ मुस्लिमों के लिए लगभग 35 हजार मस्जिद बने हुए हैं। चीन में रहने वाले ज्यादातर मुसलमान जिनजियांग के उईगर मुसलमान हैं।

No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com