टाइम्स ग्रुप सर्वे; 73.3% लोगों ने 2019 में मोदी सरकार बनने की कही बात

टाइम्स ग्रुप सर्वे; 73.3% लोगों ने 2019 में मोदी सरकार बनने की कही बात

टाइम्स समूह की नौ भाषाओं की नौ न्यूज साइटों पर 23 से 25 मई के दरम्यान एक पोल किया गया। इस पोल के तहत कुल 10 सवाल किये गए। जिसमें 8,44,646 पाठकों में अपनी प्रतिक्रिया दी। इस सर्वे में लगभग 72 फीसदी लोगों ने माना कि वह अगले लोकसभा चुनावों में एक बार फिर नरेंद्र मोदी को ही वोट करेंगे। इतना ही नही तो इस पोल में भाग लेने वाले टाइम्स के 73.3% पाठकों का यह मानना है कि साल 2019 में केंद्र में एक बार फिर से नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ही सरकार बनेगी। जैसा की हमने बताया कि टाइम्स ग्रुप ने इस पोल के अपने नौ न्यूज वेबसाइटों द्वारा अपने पाठकों से 10 सवाल किए हैं। तो चलिए हम सिलसिलेवार तरीके से जानते है कि लगभग साढ़े आठ लाख लोगों ने किस सवाल पर क्या जवाब दिया।


क्या लोकसभा चुनावों में संपूर्ण विपक्ष का गठबंधन बीजेपी के खिलाफ प्रभावी साबित होगा?

28.96% लोगों ने इस सवाल का जवाब ‘हां’ में दिया। वहीं 57.12% लोगों का कहना है कि अगले लोकसभा चुनावों में बीजेपी के खिलाफ संपूर्ण विपक्ष का गठबंधन बेअसर ही रहेगा। वही इस सर्वे में 13.92% लोग ऐसे भी रहे जो इस विषय पर किसी नतीजे पर पहुंचते नही दिखे।

लोकसभा चुनावों में प्रधानमंत्री बनने के लिए किसे देंगे वोट?

इस सवाल के जवाब में 71.95 फीसदी लोगों ने नरेंद्र मोदी को अपनी पहली पसंद बताया। वहीं बात करे राहुल गांधी की तो इस सर्वे में उन्हें सिर्फ 11.93 फीसदी लोग प्रधानमंत्री पद पर देखना पसंद करते है। जबकि इन दोनों के अलावा प्रधानमंत्री पद पर किसी तीसरे को देखने की अभिलाषा रखने वाले लोगों का प्रतिशत 16.12 है।

मोदी सरकार के कार्याकाल को आप कैसे आंकते है?

इस सवाल के जवाब में 47.47 प्रतिशत लोगों ने मोदी सरकार के अब तक के कार्यकाल को ‘बहुत बढ़िया’ बताया है। वहीं 20.60 प्रतिशत लोग ऐसे है जो पिछले चार साल के कार्यकाल को ‘बढ़िया’ बता रहे है। इस सर्वे में 20.55 फीसदी लोग ऐसे भी रहे जिन्होंने मोदी सरकार के कार्यकाल को खराब बताया है। 11.38 प्रतिशत लोगों ने मोदी के कार्यकाल को औसत दर्जे के बताया हैं।

क्या एनडीए सरकार में अल्पसंख्यक सुरक्षित है?

इस सवाल के जवाब में 30.01% लोगों ने अल्पसंख्यक समुदाय को एनडीए की सरकार में सुरक्षित बताया। वही 59.41 फीसदी लोग ऐसे रहे जिन्हें लगता है कि एनडीए के कार्यकाल में अल्पसंख्यक सुरक्षित महसूस नही करते।

मोदी सरकार की विदेश नीति पर क्या है राय?

62.63% लोगों ने मोदी सरकार की विदेश नीति को बहुत बढ़िया बताया। सिर्फ 15.84% लोग ऐसे थे जिन्हें लगता है कि मोदी सरकार की अब तक की विदेश नीति खराब रही हैं।

क्या इन चार सालों में आपका जीवनस्तर सुधरा?
 
अपने जीवनस्तर में सुधार की बात को 55% लोगों ने स्वीकार किया। वहीं 33 प्रतिशत ऐसे लोग रहे जिनके अनुसार पिछले चार सालों में उनके जीवन स्तर में कोई खास बदलाव नही आया।

मोदी सरकार का सबसे सफल फैसला कौन सा रहा?

इस सवाल जवाब में सबसे ज्यादा वोट जीएसटी को मिले। 33.42 फीसदी लोगों ने माना कि जीएसटी को लागू करने का फैसला मोदी सरकार का सबसे सही नीतिगत फैसला था। वहीं पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक को 19.89 फीसदी लोगों ने सबसे सही नीतिगत फैसला बताया। इस संबंध में नोटबंदी वाले फैसले को 21.90 लोगों का वोट हासिल हुआ।

मोदी सरकार किस मामले में रही सबसे ज्यादा असफ़ल?

इस सवाल के जवाब में सबसे ज्यादा 28.30% लोगों ने पर्याप्त रोजगार उपलब्ध न करा पाने को इस सरकार की सबसे बड़ी नाकामी बताया। वहीं नोटबंदी को 22.20%, कश्मीर नीति को 14.28 प्रतिशत और किसान-खेती संकट को 12.58% लोगों ने सरकार की सबसे बड़ी नाकामी बताया।

बेरोजगारी कम करने के लिए सरकार द्वारा कितने ज्यादा कदम उठाए गए?

इस सवाल के जवाब में जहां 36.03% लोगों ने सरकार द्वारा बेरोजगारी दूर करने के संबंध में किसी तरह का कोई कारगर कदम नही उठाए जाने की बात कही। वहीं 37.29 फीसदी लोग ऐसे रहे जिन्होंने बेरोजगारी को लेकर सरकार द्वारा उठाए गए कदम को संतोषजनक बताया। इस सवाल के जवाब में 21.28 फीसदी लोग ऐसे भी रहे जिन्हें यह लगता है कि सरकार ने बेरोजगारी को लेकर बहुतेरे कदम उठाए हैं।
No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com