डूबते हुए मैच को Dinesh Karthik ने उभारा

जो मैच भारत 2 ओवर पहले लगभग हार सा गया था। उसे दिनेश कार्तिक ने अपने बल्ले से पीट-पीट कर जीत में तब्दील कर दिया। 18वें ओवर की समाप्ति के बाद जब ज्यादातर भारतीय प्रशंसक मैच को हारी हुई बाजी मान चुके थे तब क्रीज पर आए दिनेश कार्तिक ने 19वें ओवर में 2 छक्के और दो चौके मारकर मैच में ना सिर्फ जान फूंक दी बल्कि एक नए सिरे से रोमांच भर दिया। दिनेश कार्तिक ने ना सिर्फ भारत की मैच में वापसी कराई बल्कि आखिरी गेंद पर जब जीत के लिए 5 रनों की जरूरत थी तब जादुई  तरीके से गेंद को सीमा रेखा से बाहर पहुंचा कर समस्त भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के दिलों में बहार लाई ।

आठ गेंदों में तीन दनदनाते छक्कों और 2 जोरदार चौकों की मदद से नाबाद 29 रनों की दिनेश कार्तिक की  पारी ने भारत को एक यादगार जीत दिला दी। आखिरी गेंद तक चले इस मैच में चार विकेट से मिली रोमांचक जीत के साथ भारत ने निदहास त्रिकोणीय सीरीज पर कब्जा कर लिया। मैच के हीरो रहे दिनेश कार्तिक को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। वहीं पूरी सीरीज में शानदार गेंदबाजी करने वाले वाशिंगटन सुंदर को मैन ऑफ द टूर्नामेंट के खिताब से नवाजा गया।पहले बल्लेबाजी करते हुए बांग्लादेश की शुरुआत काफी धीमी रही। लेकिन सब्बीर रहमान के 50 गेंदों में 77 रनों की धुँआधार पारी और आखिरी क्षणों में मेहंदी हसन मिराज द्वारा 7 गेंदों में खेली गई 19 रनों की तूफानी बल्लेबाजी की बदौलत बांग्लादेश 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 166 रन बनाने में सफल रही। बांग्लादेश की पारी में भारत की तरफ से युजवेंद्र चहल ने 18 रन देकर 3 विकेट हासिल किए। वही जयदेव ने दो और सुंदर ने एक विकेट हासिल किया।

फाइनल मैच में 167 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने शुरुआत तो काफी तेज की। लेकिन तीसरे ओवर में शिखर धवन(10) और चौथे ओवर में सुरेश रैना(0) के जल्दी निपट जाने के चलते भारतीय पारी लड़खड़ा गई। इसके बाद रोहित शर्मा(42 गेंद 56 रन ) ने केएल राहुल(14 गेंद 24 रन) के साथ मिलकर 51 रनों की साझेदारी कर भारतीय पारी को संभालने और सँवारने का काम किया।आखिरी के दस ओवरों में भारत को जीत के लिए 83 रनों की जरूरत थी। लेकिन अगले पांच ओवरों में भारत सिर्फ 31 रन ही बना पाया । नतीजतन आखिरी के पांच ओवरों में भारत को जीत के लिए 52 रनों का आवश्यकता आन पड़ी। ऐसे समय मे मुस्ताफिजुर रहमान के 18वें ओवर ने मैच का रुख भारत से मोड़ कर लगभग पूरी तरह बांग्लादेश की तरफ कर दिया। लेकिन 19वें ओवर में जब दिनेश कार्तिक क्रीज पर उतरे, तब उनके उतरने के चंद गेंदों के बाद बांग्लादेशी खिलाड़ियों के चेहरे उतर गए। दिनेश कार्तिक ने 19वें ओवर में दो छक्कों और दो चौकों  की मदद से भारत को जीत के दहलीज पर पहुंचा दिया। इसके बाद जब आखिरी गेंद पर 5 रनों की जरूरत पड़ी तब दिनेश कार्तिक ने अपने बल्ले से दोबारा एक जोरदार प्रहार कर भारत को अविश्वसनीय जीत दिला दी।

No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com