नारायण की नायाब पारी ने दिलाई KKR को IPL ki पहली जीत

ईडन गार्डन पर खेले जा रहे मैच में सुनील नारायण की नायाब और दिनेश कार्तिक की दमदार बल्लेबाजी के बूते KKR ने अपने पहले मैच में आरसीबी को पटखनी दे दी। जीत के लिए मिले 177 रन के लक्ष्य को कोलकाता की टीम ने 4 विकेट से जीत हासिल कर ली। जीत के हीरो रहे सुनील नारायण जिन्होंने 19 गेंदों में 51 रन की तूफानी ओरी खेलकर KKR के जीत की मजबूत नींव रख दी। हालांकि, नीतीश राना ने भी अच्छा ऑलराउंडर प्रदर्शन दिखाया। उन्होंने पहले आरसीबी के 2 विकेट चटकाए और फिर बल्लेबाजी में भी 25 गेंदों में 34 रन की तूफानी पारी खेलकर कोलकाता के लिए जीत की राह आसान कर दी।
नारायण की नायाब और दिनेश की दमदार पारी
विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी KKR की टीम ने दूसरे ही ओवर में क्रिस के रूप में आपका विकेट मात्र 16 रन के स्कोर पर खो दिया। लेकिन इस विकेट के बाद ईडन गार्डन पर सुनील नारायण के बल्ले से रनों की बारिश होने लगी। सुनील नारायण के आतिशी बल्लेबाजी का नतीजा यह रहा कि कोलकाता ने सिर्फ 5 ओवर में 65 रन बना लिए। आरसीबी गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाते हुए उन्होंने सिर्फ 17 गेंदों में 5 अकाशभेदी छक्के और 4 जोरदार चौके की मदद से अपना अर्धशतक पूरा कर लिया।
हालांकि, इससे पहले ही वह अकेले ही पूरा मैच खत्म करते, उमेश यादव ने उन्हें क्लीन बोल्ड कर उनकी पारी पर ब्रेक लगा दिया।उमेश यादव यहीं नही रुके। उन्होंने अपने अगले ही ओवर में रॉबिन को उथप्पा को भी अपनी तेज गति की गेंद से चकमा देकर 13 रन के स्कोर पर चलता कर दिया। इसके बाद नीतीश राना और क्रीज पर उतरे कप्तान दिनेश कार्तिक ने KKR के जीत की उम्मीदों को बरकरार रखने के लिए दरकार रनों को सूझबूझ के बनाने में जुट गए।
अगले 7 ओवरों में 55 रन की साझेदारी कर दिनेश कार्तिक और नीतीश राणा KKR को जीत के करीब ले गए। आरसीबी से जीत को दूर खींच ले जाते इन दोनों की जोड़ी को सुंदर वाशिंगटन ने अपनी स्पिन के जाल में फंसाकर तोड़ने का काम किया। नीतीश राना के 25 गेंदों पर 34 रन बनाकर आउट होने के बाद रिंकू सिंह भी 6 गेंदों में 6 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद मैदान पर उतरे आंद्रे रस्सल ने अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से कोलकाता को जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
मैकुलम, डिविलियर्स और मनदीप ने जमाया रंग
टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी आरसीबी की टीम के पारी का आगाज करने के लिए मैकुलम और डी कॉक जैसे महारथी मैदान पर उतरे। मैकुलम ने पारी की शुरुआत भी धमाकेदार की। लेकिन मैच के दूसरे ही ओवर में एक चौक लगाने के बाद डी कॉक चार रन के निजी स्कोर पर ही चावला की गेंद पर अपना विकेट गवां बैठे। इसके बाद मैदान पर उतरे आरसीबी के कप्तान विराट कोहली। कोहली और मैकुलम की जोड़ी ने देखते ही देखते आरसीबी के स्कोर को 8 ओवर में 60 के पार पहुंचा दिया।
एक तरफ मैकुलम अपने बल्ले से आग बरसा रहे थे। दूसरी तरफ कोहली सूझबूझ के साथ विकेट को संभालते हुए पारी को सँवारने में लगे हुए थे। KKR की दृष्टि से खतरनाक होती इन दोनों की साझेदार को नारेन ने मैकुलम को बोल्ड करके तोड़ा। नारेन कि गेंद पर एक बड़ा शॉट मारने के चक्कर मे मैकल्लम अपना विकेट गवां बैठे। हालांकि, आउट होने से पहले उन्होंने मात्र 27 गेंदों में 6 चौके और 2 छक्के की मदद से 43 रन बनाकर वह टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा गए।
मैकुलम के आउट होने के बावजूद आरसीबी के रनगति पर इसका रत्ती भर भी असर नही हुआ। क्योंकि मैकुलम के बाद मैदान पर उतरे डिविलियर्स ने भी 5 गगनचुंबी छक्के लगाकर मैदान मार लिया। नीतीश राना का शिकार होने से पहले डिविलियर्स 23 गेंदों में 44 रन की धुँआधार पार खेल गए। अंतिम ओवरों में मनदीप ने भी कुछ अच्छे हाथ दिखाए और 4 चौकों, 2 छक्कों की मदद से 18 गेंदों में ताबड़तोड़ 37 रन ठोक डालें। मैकुलम, कोहली, डिविलियर्स और मनदीप की पारियों की बदौलत आरसीबी 20 ओवरों में 7 वीकेट के नुकसान पर 176 रनों का पहाड़ खड़ा करने में सफल रहा।
No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com