राजस्थान: रंग में पड़ा भंग, रामनवमी जुलूस के दौरान हिंसक झड़प

इस देश में कौमी एकता की मिसाल देखने को मिलती है. मगर, कई ऐसे मौके भी आए जब इस एकता को चोट भी पहुंची. शनिवार को जोधपुर के सूरसागर इलाके में रामनवमी के मौके पर जूलुस निकाला जा रहा था. इसी दौरान कथित तौर पर कुछ लोगों के समूह ने जुलूस पर पत्थरबाजी शुरू कर दी. इस झड़प को कंट्रोल में करने के लिये पुलिस ने आंसू गैस के गोले बरसाए.

सूरसागर पुलिस स्टेशन अंतर्गत ‘व्यापारियों का मोहल्ला’ में झड़प के दौरान कुछ गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया. भीड़ ने घरों पर पत्थर बरसाये और पुलिस के साथ झड़प भी की. इस दौरान दो पुलिसकर्मी भी घायल हो गये. सूरसागर इलाके के आसपास तीन दिन पहले भी झड़प के दौरान युवाओं ने एक मोटरसाईकिल को क्षति पहुंचाई थी.

शनिवार को कुछ लोगों ने एक हिंदू फेमिली के घर पर हमला कर दिया. फेमिली के मेम्बर्स ने आरोप लगाया कि कंट्रोल रूम में बार-बार कॉल करने के बावजूद पुलिस समय पर नहीं पहुंची. पुलिस ने कहा कि रामनवमी जूलुस के कारण घर पर पहुंचने में देरी हुई. भीड़ ने पुलिस की गाड़ी पर भी पत्थर बरसाई. यहां तक कि गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया. पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साम्प्रदायिक सद्भाव और शांति बनाये रखने की अपील की है. केंद्रीय राज्य मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत देर रात धरने पर बैठ गये. उन्होंने हिरासत में लिये गये लोगों के रिहाई की मांग की. शेखावत जोधपुर से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि हिंदू पी़ड़ितों को मामले में घसीटा जा रहा है.

~Shravan Pandey

No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com