शाहरुख़ खान के 53वें जन्मदिन पर पढ़िए जीवन का मर्म समझाते उनके 10 डायलॉग

आज “बॉलीवुड का बादशाह”, “किंग ख़ान”, “रोमांस किंग” और “किंग ऑफ़ बॉलीवुड” कहे जाने वाले शाहरुख़ खान का जन्मदिन है। 2 नवंबर 1965 के दिन पैदा हुए शाहरुख़ खान आज अपना 53वां जन्मदिन मना रहे है। दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे(1995), कुछ कुछ होता है(1998), कभी खुशी कभी ग़म(2001), देवदास(2002), कल हो ना हो(2003), वीर ज़ारा(2006), चक दे! इंडिया(2007), ओम शांति ओम(2007), रब ने बना दी जोड़ी(2008), रा.वन(2011), चेन्नई एक्सप्रेस(2013) जैसी फिल्मे करने वाले शाहरुख़ खान ने अपने करियर की शुरुआत ‘फौजी’ नामक एक टीवी सीरियल से की थी। शाहरुख़ खान को उनके डायलॉग डिलीवरी और रोमांस के लिए जाना जाता है। तो चलिए पढ़ते है शाहरुख़ खान द्वारा कहे गए 10 ऐसे डायलॉग जो बेहद कम शब्दों में जीवन को बेहद ही गहराई से समझा जाते है।
Image result for shahrukh khan donफिल्‍म- ‘डॉन’
डॉन अपने दोस्‍तों का हाल पूछे या ना पूछे, अपने दुश्‍मनों की खबर हमेशा रखता है।
Image result for फिल्‍म- 'चेन्‍नई एक्‍सप्रेस'फिल्‍म- ‘चेन्‍नई एक्‍सप्रेस’
डोंट अंडरएस्‍टीमेट द पावर ऑफ अ कॉमन मैन।
Image result for फिल्‍म- 'डियर जिंदगी'फिल्‍म- ‘डियर जिंदगी’
रोने का इजहार नहीं किया तो प्यार का कैसे करें।
Image result for फिल्‍म- 'कभी खुशी कभी गम'फिल्‍म- ‘कभी खुशी कभी गम’
जिंदगी में कुछ बनना हो, कुछ हासिल करना हो, कुछ जीतना हो तो हमेशा अपने दिल की सुनो, और अगर दिल से भी कोई जवाब ना आये तो अपनी आंखें बंद करके अपने मां और बाबा का नाम लो। फिर देखना तुम हर मंजिल पा सकोगे, हर मुश्‍किल आसान हो जायेगी, जीत तुम्‍हारी ही होगी, सिर्फ तुम्‍हारी।
Image result for फिल्‍म- 'ओम शांति ओम'फिल्‍म- ‘ओम शांति ओम’
आज इस बात का भी यकीन हो गया कि हमारी फिल्‍मों की तरह हमारी जिंदगी में भी एंड में सब ठीक हो जाता है, हैप्‍पी एंडिंग्‍स। और अगर ठीक ना हो तो वो एंड नहीं है दोस्‍तों पिक्‍चर अभी बाकी है।
Image result for फिल्‍म- 'कल हो ना हो'फिल्‍म- ‘कल हो ना हो’
आज एक हंसी और बांट लूं, आज एक दुआ और मांग लूं, आज एक आंसू और पी लूं, आज एक जिंदगी और जी लूं, आज एक सपना और देख लूं, आज क्‍या पता कल हो ना हो।
Image result for फिल्‍म- 'मोहब्‍बतें'फिल्‍म- ‘मोहब्‍बतें’
प्‍यार जिंदगी की तरह होता है, जिसका हर मोड़ आसान नहीं होता, हर रास्‍ते पर खुशी नहीं मिलती, पर जब हम जिंदगी का साथ नहीं छोड़ते तो हम प्‍यार का साथ क्‍यों छोड़ दें।
Image result for shahrukh khan फिल्‍म- 'बादशाह'फिल्‍म- ‘बादशाह’
कभी कभी दिल जोड़ने के लिए दिल तोड़ना पड़ता है और दिल तोड़ने वाले को पता नहीं क्‍या कहते हैं।
Image result for फिल्‍म- 'कुछ कुछ होता है'फिल्‍म- ‘कुछ कुछ होता है’
प्‍यार दोस्‍ती है, अगर वो मेरी सबसे अच्‍छी दोस्‍त नहीं बन सकती, तो मैं उसे कभी प्‍यार कर ही नहीं सकता। क्‍योंकि दोस्‍ती बिना तो प्‍यार होता ही नहीं, सिंपल प्‍यार दोस्‍ती है।
Image result for shahrukhफिल्‍म- ‘ओम शांति ओम’
कहते हैं अगर दिल किसी चीज को चाहो तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने की कोशिश में लग जाती है।
No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com