2 मार्च को बाल बलात्कार कानून के तहत पहले बलात्कारी को होगी फाँसी

“मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ने अपराध को “रेयरेस्ट ऑफ रेयर” मानते हुए 25 जनवरी को मृत्युदंड की पुष्टि की। उच्च न्यायालय ने कहा कि मृत्युदंड महत्वपूर्ण था क्योंकि अपराध एक शिक्षक द्वारा किया गया था।”

मध्य प्रदेश की एक जिला अदालत ने एक स्कूल शिक्षक के खिलाफ डेथ वारंट जारी किया है। उसे चार वर्षीय स्टूडेंट के साथ बलात्कार का दोषी पाया गया था। अपराधी महेंद्र सिंह गोंड को दो मार्च को जबलपुर जेल में मृत्युदंड दिया जाएगा। बाल बलात्कारियों के लिए मृत्युदंड के नए कानून के तहत यह पहली फांसी होगी।

गोंड ने पिछले साल 30 जून को लड़की का अपहरण और बलात्कार किया था। देश की चेतना को हिला देने वाले जघन्य अपराध ने पुलिस को जल्द कार्रवाई के लिए प्रेरित किया। कुछ ही घंटों में गोंड को गिरफ्तार कर लिया गया। गोंड ने जंगल में बच्चे को मरा हुआ मानकर उसे फेंक दिया था।

लड़की के परिवार ने उसे ढूंढने के बाद उसे अस्पताल पहुंचाया। लड़की के साथ इतनी क्रूरता की गई थी कि राज्य सरकार ने उसे दिल्ली ले जाने का फैसला किया, ताकि उसका एम्स में इलाज हो सके। नाबालिग लड़की को अपनी आंतों को फिर से प्राप्त करने के लिए कई चोटों से होकर गुजरना पड़ा।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दर्ज पीड़िता का बयान स्कूल शिक्षक को दोषी साबित करने में महत्वपूर्ण था। नागोद की एक सत्र अदालत ने गोंड को पिछले साल 19 सितंबर को मृत्युदंड की सजा सुनाई थी।

मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ने अपराध को “रेयरेस्ट ऑफ रेयर” मानते हुए 25 जनवरी को मृत्युदंड की पुष्टि की। उच्च न्यायालय ने कहा कि मृत्युदंड महत्वपूर्ण था क्योंकि अपराध एक शिक्षक द्वारा किया गया था।

जबलपुर सेंट्रल जेल के अधीक्षक, गोपाल ताम्रकार ने द टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा कि उन्हें सतना अदालत से एक ईमेल मिला है जिसमें कहा गया है कि 2 मार्च को सुबह 5 बजे गोंड को मार दिया जाएगा। हालांकि, उन्होंने कहा कि फांसी अभी भी सुप्रीम कोर्ट या राष्ट्रपति द्वारा रोकी जा सकती है।

~Shravan Pandey

No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com