700 साल पुराने दुनिया के दूसरे सबसे बुजुर्ग पेड़ का चल रहा है इलाज, उसकी जिंदगी के लिए दुआ कीजिए!

“Incredible India!” हैदराबाद के तेलंगाना से आई एक खबर भारतीय पर्यटन विभाग की इस स्लोगन को अक्षरसः सही साबित करती है। इनक्रेडिबल इसलिए क्योंकि अब तक हमने आमतौर पर इंसानो और कभी-कभार जानवरों के बीमार पड़ने पर उनके इलाज के लिए उन्हें सलाइन ड्रिप चढ़ाने के बात देखी-सुनी होगी। लेकिन हैदराबाद के तेलंगाना के महबूब नगर जिले में एक ऐसा 700 साल पुराना बरगद का पे है जिसकी बीमार शाखाओं पर दवाई युक्त सलाइन की ड्रिप चढ़ाई जा रही है।
Image result for पेड़ को चढ़ाई जा रही ड्रिपखबर के अनुसार, महबूब नगर जिले के पिल्लामर्री इलाके में एक 700 साल पुराना पेड़ इन दिनों में बेहद बीमार चल रहा है। दीमक के प्रकोप के बेहद खतरनाक स्तर तक पहुंच जाने के चलते पेड़ के कुछ हिस्से खोखले हो गए हैं। दीमक के कारण पेड़ की जड़ से लेकर इसके तने और शाखाओं की स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही है। पेड़ की ऐसी नाजुक स्थिति के बारे में पता चलते ही पर्यवारण से जुड़े लोगों ने तुरंत इस पेड़ को बचाने के लिए एक मुहिम छेड़ दी।
Image result for पेड़ को चढ़ाई जा रही ड्रिपसबसे पहले दीमक के कारण खोखले हो चुके पेड़ के तने और शाखाओं को टूटने से बचाने के लिए लोगों ने उस पेड़ के इर्द-गिर्द कांक्रीट की दीवार खड़ी कर दी। इसके बाद पेड़ को दीमक के प्रकोप से पूर्णतः बचाने के लिए सैकड़ो सलाइन ड्रिप के सहारे पेड़ के तने, जड़ों और शाखाओं में बूंद-बूंद करके नमकीन पानी इंजेक्ट किया जा रहा है। ऐसी उम्मीद है कि नमकीन पानी के असर से पेड़ में लगे सभी दीमक नष्ट हो जाएंगे और पेड़ को दोबारा जीवनदान मिल जाएगा। अगर यह तरीका काम कर गया तो न सिर्फ 700 साल पुराने इस बरगद के पेड़ पर से अपने अस्तित्व का संकट टल जाएगा बल्कि वह दोबारा हरा भरा भी हो जाएगा।
Image result for पेड़ को चढ़ाई जा रही ड्रिपआपको बता दे कि पेड़ के बिगड़ते हालत को देख दिसंबर 2017 से ही यहां पर्यटकों के आने-जाने पर रोक लगा दी गई थी। इस पेड़ का इतने खास तरीके से इलाज करने का सिर्फ यही कारण नही है कि इस पेड़ को देखने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते है। पेड़ के साथ इतने मानवीय व्यवहार का कारण 700 साल पुराने इस पेड़ से स्थानीय लोगों का आत्मिक लगाव भी है। लोगों के अनुसार इस पेड़ की छांव में न सिर्फ वह बच्चे से बूढ़े हुए बल्कि उनके पुरखों तक ने बरगद के इस पेड़ की हरियाली तले अपनी जिंदगी गुजार दी।
No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com