Justice For Divya: तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची के साथ दुष्कर्म, बाहर निकल आई बच्ची की आंतें

Justice For Divya: तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची के साथ दुष्कर्म, बाहर निकल आई बच्ची की आंतें
भारत का दिल कहे जाने वाले मध्यप्रदेश के मंदसौर में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक आठ साल की बच्ची के साथ इमरान(20) नामक शख्स पर दुष्कर्म करने का आरोप लगा है। आरोपित इमरान खान ने तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली मासूम बच्ची के साथ ना सिर्फ दुष्कर्म किया बल्कि उसके प्राइवेट पार्ट को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से उसने बच्ची के प्राइवेट पार्ट में लोहा या लकड़ी जैसी कोई चीज भी डाल दी। इस वजह से आठ साल की बच्ची की आंतें तक बाहर निकल आई। लेकिन इमरान की हैवानियत का यहीं अंत नही हुआ। इसके बाद उसने बच्ची का गला रेतने का भी प्रयास किया।
जानकारी के मुताबिक, आरोपी मिठाई देने का लालच देकर बच्ची को अपने साथ ले गया था और झाड़ियों में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। उसके बाद वो बच्ची को वहीं लहुलूहान हालत में छोड़कर वहां से फरार हो गया। बच्ची के स्कूल बैग से पुलिस को शराब की बोतलें भी मिली थीं। गौरतलब है कि बुधवार को नाले किनारे झाड़ियों में बदहवास हालत में पड़ी बच्ची को तुरंत इंदौर के अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने दो घंटे तक चले ऑपरेशन में तीन सर्जरी कर बच्ची की जान तो बचा ली। लेकिन अपने साथ हुए खौफनाक हादसे के मंजर के चलते दहशत से भर चुकी बच्ची फिलहाल कुछ भी बोल नही पा रही है। उधर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए बुधवार को ही आरोपी इमरान को गिरफ्तार भी कर किया। पुलिस की अब तक की रिपोर्ट में उसे नशे का आदी बताया जा रहा है। मंदसौर  मंदसौर मंदसौर मंदसौर मंदसौर मंदसौर मंदसौर मंदसौर मंदसौर मंदसौर मंदसौर
बुधवार की रात मंदसौर शहर वालों को जब इस बात की खबर लगी कि पुलिस बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाले इमरान को पुलिस कंट्रोल रूम लेकर आ रही है। तो रात करीब 11:30 बजे के आसपास पुलिस कंट्रोल रूम के सामने सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई। सबने एक सुर में यह मांग की कि दुष्कर्म के आरोपी इमरान को उनके हवालें कर दिया जाए। वो लोग उसे अपने हाथ से उसके किए की सजा देंगे। भीड़ के इसी आक्रोश के चलते इस मामले की सुनवाई कर रही जज शबनम मंसूरी को मजबूरन सुनवाई के लिए खुद ही पुलिस कंट्रोल रूम जाना पड़ा।
प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी अस्पताल में फोन कर डॉक्टरों से बात की और बच्ची का हालचाल जाना। उन्होंने कहा कि पीड़ित बच्ची की हालत में सुधार आ रहा है। इस केस की सुनवाई जल्द होनी चाहिए और आरोपी को उसके द्वारा किए गए गंभीर अपराध के लिए मौत होने तक फांसी दी जानी चाहिए। इस मामले में जहां कानून ने अपना काम करते हुए बच्ची के साथ दुष्कर्म के आरोपी इमरान को 2 जुलाई तक पुलिस की रिमांड में भेज दिया है। वहीं जिस समुदाय से इमरान ताल्लुक रखता है उसकी तरफ से भी उसे सजा सुना दी गई है। अंजुमन सदर व मंदसौर के शहर काजी ने कहा कि मामले के आरोपित को फांसी के बाद शहर के कब्रिस्तान में जगह नहीं दी जाएगी। वकीलों ने आरोपित की पैरवी नहीं करने की शपथ ली है। 
Justice For Divya Justice For Divya  Justice For Divya  Justice For Divya  Justice For Divya  Justice For Divya  Justice For Divya  Justice For Divya  Justice For Divya
No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com