Farm loan waiver: किसानों ने फ़र्जी कर्ज़ को लेकर दी सामूहिक आत्महत्या की धमकी

133

मध्य प्रदेश के एक गाँव के किसानों ने राज्य सरकार की Farm loan waiver सूची में अपना नाम सामने आने के बाद “सामूहिक आत्महत्या” करने की धमकी दी है। हालांकि उनके पास कोई बकाया नहीं है या फ़िर जिनका नाम सूची में है उनका कर्ज़ कम है।

हिलगन गांव के पीड़ित किसान शनिवार को दोषपूर्ण Farm loan waiver सूची के विरोध में पंचायत कार्यालय में इकट्ठे हुए। उन्होंने कहा, “अगर इस मुद्दे को जल्द से जल्द हल नहीं किया जाता है तो हम सामूहिक आत्महत्या करेंगे।”

किसानों में से एक रामकुमार सिंह लोधी ने पंचायत कार्यालय में एक Farm loan waiver सूची का जिक्र किया जिसमें उन लोगों के बीच उनका नाम प्रदर्शित किया गया, जो कर्ज में डूबे हुए हैं। सूची में न केवल उनके खिलाफ मोटे कर्ज का उल्लेख किया गया है, बल्कि उनके पिता का नाम भी है, जिनकी कुछ साल पहले मृत्यु हो गई थी।

राज्य सरकार ने पहले ही फ़र्जी कर्ज़ की शिकायतों की जांच करने का आदेश दिया है। यह घपला तब शुरू हुआ था जब Farm loan waiver योजना के लिए लिस्ट तैयार किया जाना शुरू हुआ था।

Farm loan waiver योजना में कर्ज़ धोखाधड़ी के प्रयास में पहली गिरफ्तारी शुक्रवार को आगरा-मालवा के सुसनेर में की गई। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि धोखाधड़ी वर्षों से चल रही है और 2,000 करोड़ रुपये से अधिक हो सकती है।

रामकुमार सिंह लोधी ने कहा, “कर्ज़, आप जानते हैं, दुनिया के इस भाग में सबसे भयानक पाप है। जय किसान ऋण माफ़ी योजना के तहत प्रदर्शित किसानों की सूची में मेरे पिता के नाम के खिलाफ 9,547 रुपये का उल्लेख है, जबकि 70,481 रुपये की राशि का उल्लेख मेरे नाम के खिलाफ किया गया था।”

उन्होंने इस साल की शुरुआत में चने की फसल बोने के लिए कर्ज लेना स्वीकार किया, लेकिन यह केवल 17,000 रुपये था। लेक़िन उन्होंने कहा कि उनके पिता ने कभी कोई कर्ज नहीं लिया था। एक अन्य किसान, ब्रजेंद्र सिंह ने कहा, “गाँव के लगभग 100 किसान प्रभावित हैं। जिन्होंने कभी कर्ज नहीं लिया है उन्हें डिफाल्टर की लिस्ट में रखा गया है।”

राज्य के सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह ने कहा, “हमने पहले ही जांच शुरू कर दी है और यह सुनिश्चित करेंगे कि जिन किसानों ने कर्ज नहीं लिया है, वे परेशान न हों।”

~Shravan Pandey

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here