Thanks Indian Army: बर्फबारी में फंसी प्रेग्नेंट महिला को पहुँचाया हॉस्पिटल, पैदा हुईं जुड़वा बहनें

Indian Army ने एक ऐसा काम किया है जिससे पूरा देश फक्र के साथ इंडियन आर्मी को सलामी दे सकता है। अपनी जान पर खेलकर हमारी रक्षा करने वाली सरहद पर तैनात इंडियन आर्मी हमारे देश का स्वाभिमान है। एक प्रेग्नेंट महिला बर्फ में फंस गई थी। इस मुश्किल घड़ी में उस महिला की मदद के लिए इंडियन आर्मी आगे आई और उत्तर कश्मीर के बांदीपोर ( Bandipore ) जिले में स्थित एक अस्पताल में पहुँचाया। जिसके बाद अस्पताल में उस महिला ने जुड़वा बच्चियों को जन्म दिया।

अधिकारियों ने रविवार को बताया कि शुक्रवार को बांदीपोर ( Bandipore ) के पानर सेना शिविर के कंपनी कमांडर को एक ग्रामीण का फोन आया। ग्रामीण ने अपनी गर्भवती पत्नी गुलशन बेगम को अस्पताल पहुंचाने के लिए मदद मांगी। मौसम की स्थिति अनिश्चित थी। भारी बर्फबारी हो रही थी और तापमान शून्य से सात डिग्री नीचे था। सड़कें बर्फ से ढक चुकी थीं। कंडीशन ऐसा था कि सड़क पर गाड़ी चलाना आसान नहीं था। लेकिन किसी भी हालत में उस महिला को अस्पताल पहुँचाना था।

बांदीपोर राष्ट्रीय राइफल्स ( Bandipore Rashtriya Rifles ) के जवानों ने विकट परिस्थितियों का डटकर सामना किया। जवानों के साहस के सामने बर्फ़बारी की क्या औकात। उस महिला के घर पर पहुँचने में जवानों को समय नहीं लगा। कमर तक की बिछी बर्फ की चादरों से होते हुए एक स्ट्रेचर पर उस महिला को हॉस्पिटल पहुँचाया। इसके लिए जवानों ने बर्फ के बीच 2.5 किलोमीटर की दूरी पैदल तय की। अधिकारियों ने बताया कि उस महिला को आर्मी के एम्बुलेंस में डालकर जिला अस्पताल बांदीपोर में ले जाया गया।

अधिकारियों ने कहा कि हर मिनट के साथ समय पर समन्वय की आवश्यकता को समझते हुए सेना ने पहले ही सिविल अधिकारियों से संपर्क साधा। इसके साथ ही अस्पताल में डॉक्टरों की व्यवस्था की। जांच के बाद, यह बताया गया कि महिला प्रेग्नेंट थी। उसके पेट में जुड़वा बच्चे थे। उसे एक शल्यक्रिया की आवश्यकता थी जिसके लिए उसे आगे श्रीनगर अस्पताल ले जाया गया। अधिकारियों के मुताबिक, महिला ने उसी रात जुड़वां बच्चियों को सुरक्षित जन्म दिया।

~Shravan Pandey

No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com