TikTok Ban: आख़िर भारत में TikTok को प्ले स्टोर से क्यों हटाया गया? ये है शुरू से अंत तक की पूरी कहानी

TikTok को भारत में गूगल और एप्पल के प्ले स्टोर से हटा लिया गया है। जो कुछ हुआ है वह अचानक नहीं हुआ है। इसे बैन करने के लिए मांग बहुत पहले से चल रही थी। पिछले कुछ समय से लिपसिंक( रिकार्ड बात अथवा गीत के बोल के उच्चारण के अनुसार होंठ मिलाना) और वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म TikTok के लिए परेशानी भारत में बढ़ रही थी।
16 अप्रैल को TikTok के लिए चीजें बद से बदतर हो गईं। Google और Apple ने अदालत के आदेश का पालन करने के लिए इसे देश में अपने स्टोर से हटा लिया। भारत इस चीनी ऐप के लिए एक महत्वपूर्ण बाजार है, क्योंकि इसके 500 मिलियन उपयोगकर्ताओं में से 40% भारत में हैं। आइये यहाँ पर नज़र डालते हैं कि इसके साथ जो कुछ हुआ वह कब और क्यों हुआ:
◆ 17 अक्टूबर 2018: चेन्नई के रहने वाले एक 24 वर्षीय युवक ने कथित तौर पर महिला पोशाक में खुद के वीडियो पोस्ट करने के लिए TikTok उपयोगकर्ताओं द्वारा उत्पीड़न के बाद आत्महत्या कर ली।
◆ 1 जनवरी 2019: दक्षिणी भारत के तमिलनाडु राज्य में पट्टली मक्कल काची पार्टी के संस्थापक एस रामदास ने राज्य सरकार से ऐप पर प्रतिबंध लगाने की मांग करते हुए कहा कि यह यौन विकृतियों की ओर जाता है और युवाओं को विचलित करता है।
◆ 11 फ़रवरी 2019: तमिलनाडु के आईटी मंत्री एम मणिकंदन का कहना है कि उनका राज्य केंद्र सरकार से “देश में संस्कृति को अपमानित करने और अश्लील साहित्य को बढ़ावा देने” के कारण देशभर में TikTok पर प्रतिबंध लगाने के लिए कहेगा।
◆ 22 फ़रवरी 2019: एक कॉलेज के छात्र की मौत हो जाती है, और उसके दो दोस्त गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं, जब TikTok वीडियो बनाते समय उनकी मोटरसाइकिल एक ट्रक में टकरा जाती है।
◆ 1 अप्रैल 2019: एडवोकेट मुथु कुमार ने अपने मंच पर पोर्नोग्राफी के प्रसार और बच्चों को संवेदनशील सामग्री के संपर्क में लाने के कारण TikTok पर प्रतिबंध लगाने के लिए मद्रास उच्च न्यायालय में याचिका दायर की।
◆ 3 अप्रैल 2019: मद्रास उच्च न्यायालय भारत सरकार को ऐप पर प्रतिबंध लगाने का आदेश देता है और मीडिया को TikTok पर बनाई गई किसी भी सामग्री का उपयोग करने से रोकता है।
◆ 12 अप्रैल 2019: TikTok का कहना है कि उसने अपने सामुदायिक दिशानिर्देशों का पालन नहीं करने के लिए छह मिलियन वीडियो हटा दिए हैं।
◆ 13 अप्रैल 2019: दिल्ली के एक 19 वर्षीय व्यक्ति की उसके दोस्त ने एक कार राइड के दौरान TikTok वीडियो के लिए लगाई पिस्तौल के साथ गलती से गोली मारकर हत्या कर दी।
◆ 15 अप्रैल 2019: सर्वोच्च न्यायालय ने TikTok पर मद्रास उच्च न्यायालय के प्रतिबंध को इस आधार पर रोक देने से इंकार कर दिया कि यह अस्थायी है और इस मामले पर अभी भी उच्च न्यायालय में सुनवाई चल रही है।
◆ 16 अप्रैल 2019: Google और Apple अपने ऐप स्टोर्स से TikTok को हटा लेते हैं।
सुप्रीम कोर्ट 22 अप्रैल को TikTok की याचिका पर फिऱ से सुनवाई करेगा। इस बीच, मौजूदा उपयोगकर्ता एप्लिकेशन का उपयोग करना जारी रख सकते हैं, और नए उपयोगकर्ता अभी भी इसे इंटरनेट से डाउनलोड कर सकते हैं।
 
~Shravan Pandey
No Comments Yet

Leave a Reply

Your email address will not be published.

युवा देश से जुड़ी समाजिक सरोकार रखने वाली खबर, आम आदमी से जुड़े खास मुद्दों के करीब, बेवज़ह और बेतुके के ड्रामे से दूर, हवा हवाई बातों के इतर जमीनी हकीकत से जुड़ी खबरों को देखने के लिए सब्सक्राइब करे हमारा चैनल युवायु। Contact us: info@uvayu.com