UP Budget 2019: गौशाला के लिए 400 करोड़ समेत Yogi Adityanath सरकार के बजट की सारी बातें

63

गुरूवार, 7 फरवरी 2019 को Yogi Adityanath सरकार ने UP Budget 2019 पेश किया। इस दौरान योगी सरकार ने कई बड़ी घोषणायें की। उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने बजट पेश किया। इस बार बजट 4.79 लाख करोड़ रुपये की है। जबकि पिछली बार यह बजट 4,28,384.52 करोड़ रुपये था। इस तरह से यह बजट पिछले वर्ष के मुकाबले 12 फीसदी ज्यादा है।

जिस समय वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल सदन में UP Budget 2019 का भाषण पढ़ रहे थे उस समय सूबे के मुखिया Yogi Adityanath भी वहां मौजूद थे। यह योगी सरकार का तीसरा बजट है।

यहाँ हम कुल 17 बिन्दुओं के माध्यम से Yogi Adityanath सरकार द्वारा पेश किये गए बजट की सभी महत्वपूर्ण बातों पर प्रकाश डालेंगे।

1. गौशाला: इस साल Yogi Adityanath सरकार ने गौशालाओं के लिए 400 करोड़ रुपये से अधिक की राशि आवंटित की। इसमें ग्रामीण क्षेत्रों में गौशालाओं का रखरखाव और निर्माण के लिए 247.60 करोड़ रूपये आवंटित किये गए हैं। शहरी क्षेत्रों में कान्हा गौशाला ( Kanha Gaushala ) और निराश्रित मवेशी आश्रय योजना ( Destitute Cattle Shelter Scheme ) के लिए 200 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया गया है।

2. पुलिस बल का आधुनिकीकरण: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पुलिस बल के आधुनिकीकरण के लिए 204 करोड़ रुपये आवंटित किया है। Yogi Adityanath सरकार ने 36 नए पुलिस स्टेशन के निर्माण, पुलिस और P.A.C. कर्मियों की प्रशिक्षण क्षमता के विस्तार और बैरकों के निर्माण हेतु 700 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया है।

पुलिस विभाग के Type-A और टाइप Type-B(आवासीय भवनों) के निर्माण के लिए 700 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है, जबकि राज्य के नव-निर्मित जिलों में सात पुलिस लाइनों के निर्माण के लिए 400 करोड़ रुपये की घोषणा की गई है। वित्त मंत्री ने राज्य के 57 फायर स्टेशनों में आवासीय और गैर-आवासीय भवनों के निर्माण के लिए 200 करोड़ रुपये के आवंटन की भी घोषणा की है।

3. स्वच्छ भारत मिशन: स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) ( Swachh Bharat Mission ) के लिए Yogi Adityanath सरकार ने 6,000 करोड़ रुपये की घोषणा की है।

4. आयुष्मान भारत योजना: उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार ने आयुष्मान भारत राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन योजना ( Ayushman Bharat National Health Protection Mission Scheme ) के लिए 1,298 करोड़ रुपये आवंटित किया है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना ( Pradhan Mantri Matru Vandana Yojna ) के लिए भी 291 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना एक मातृत्व लाभ कार्यक्रम है।

दूसरी ओर, आयुष्मान भारत योजना ( Ayushman Bharat Scheme ) से वंचित पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित करने के लिए राज्य-वित्त पोषित मुख्य मंत्री जन आरोग्य अभियान ( Mukhya Mantri Jan Arogya Abhiyan ) के तहत 111 करोड़ रुपये भी आवंटित किए गए हैं। राज्य के जिलों में 100 बिस्तरों वाले अस्पतालों की स्थापना के लिए 47.50 करोड़ रुपये की व्यवस्था भी की गई है।

5. महिलाओं का खास ध्यान: उत्तर प्रदेश की Yogi Adityanath सरकार ने अपने बजट में महिलाओं का विशेष ध्यान रखा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने लड़कियों के स्वास्थ्य और शैक्षिक स्तर को बढ़ाने, उनके भविष्य को उज्जवल करने, महिलाओं के प्रति सोच में सकारात्मक बदलाव लाने और उनके प्रति सम्मान का भाव पैदा करने के उद्देश्य से अगले वित्तीय वर्ष से शुरू की जाने वाली कन्या सुमंगला योजना ( Kanya Sumangala Yojna ) नामक एक नई योजना के लिए 1200 करोड़ रुपये की घोषणा की है।

6. मवेशी कल्याण: मवेशी कल्याण ( Cattle welfare ) के लिए राज्य में शराब की बिक्री पर बजट से विशेष उपकर ( Special Cess ) लगाया गया है। उपकर में से 165 करोड़ रुपये के अनुमानित राजस्व का उपयोग राज्य के निराश्रित पशुपालकों के रखरखाव के लिए किया जाएगा। यूपी सरकार ने अपने वार्षिक बजट में मवेशी के घरों की स्थापना और पुनर्निर्माण के लिए 20 करोड़ रुपये का प्रावधान भी किया है। मथुरा में नई डेयरी स्थापित करने के लिए 56 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

7. अयोध्या में नए एयरपोर्ट के लिए 200 करोड़ रुपया: उत्तर प्रदेश की Yogi Adityanath सरकार ने Jewar International Airport के लिए 800 करोड़ रुपये आवंटित करने के साथ-साथ अयोध्या में नए एयरपोर्ट के लिए 200 करोड़ रुपया आवंटित किया है।

8. वाईफाई ( WiFi ): कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में वाईफाई ( WiFi ) के लिए 50 करोड़ रूपये आवंटित किये हैं।

9. सैनिक स्कूल ( Sainik Schools ): UP Budget 2019 में राज्य में सैनिक स्कूलों की स्थापना के लिए 26.57 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है। राज्य में सरकारी इंटर कॉलेजों (लड़कों और लड़कियों दोनों) की स्थापना के लिए 10 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

10. आवासीय और गैर-आवासीय भवनों का निर्माण: राज्य में नए बनाए गए जिलों और नए बनाए गए न्यायालयों में आवासीय और गैर-आवासीय भवनों के निर्माण के लिए भूमि का अधिग्रहण करने हेतु 1,075 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

11. वृद्धावस्था और किसान पेंशन योजना ( Old Age and Farmers’ Pension Scheme ) : उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार ने वृद्धावस्था और किसान पेंशन योजना के तहत 2,579 करोड़ रुपये आवंटित किया है।

12. संस्कृत पाठशाला (Sanskrit Pathshalas) : सूबे के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने संस्कृत की शिक्षा को प्रोत्साहित करने के लिए संस्कृत पाठशालाओं को 242 करोड़ रुपये की सहायता देने की घोषणा की है।

13. मध्यान्ह भोजन ( Mid Day Meal ) : सूबे की योगी सरकार ने स्कूलों में मिड डे मील कार्यक्रम के लिए 2,275 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं।

14. बाढ़ नियंत्रण, जल निकासी परियोजनाएं: सरकार ने बाढ़ नियंत्रण, जल निकासी परियोजनाओं के लिए 1,100.61 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं।

15. पावरलूम बुनकर ( Powerloom weavers ): पावरलूम बुनकरों को रियायती दरों पर बिजली प्रदान करने के लिए 150 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

16. पानी पर आवंटन ( Allocations on water ): राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम ( National Rural Drinking Water Programme ) के लिए 2,954 करोड़ रुपये और राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ( National Rural Livelihood Mission ) के लिए 1,393 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। बुंदेलखंड, विंध्य क्षेत्र और कम गुणवत्ता वाले पानी से प्रभावित गांवों में पाइप पेयजल योजना के लिए 3,000 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है।

17. तीर्थ स्थान (Shrines): UP Budget 2019 में उत्तर प्रदेश की Yogi Adityanath सरकार ने तीर्थस्थलों के विकास के लिए 300 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं।

~Shravan Pandey

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here